التذكرة الإلكترونية الحجز Pe ناهي Lagega ضريبة الخدمة

التذكرة الإلكترونية الحجز Pe ناهي Lagega ضريبة الخدمة

नोटबन्दी के बाद रुपयों को लेकर जनता को हो रही परेशानियों को देखते हुए सरकार सुविधाएं देने के लिए नए-नए जतन कर रही है. इसमें पेट्रोल पम्पों, रेल आरक्षण केंद्रों पर पुराने नोट स्वीकारने के साथ अब फुटकर नोट की किल्लत को देखते हुए और ई-पेमेंट को तरजीह देने के लिए एक और फैसला लिया गया है. अब रेल यात्रियों को ई-टिकट बुक कराने पर सर्विस चार्ज नहीं देना होगा.यह सुविधा 23 नवम्बर से 31 दिसम्बर तक लागू रहेगी.

इस बारे में मिली जानकारी के अनुसार ई-टिकट बुक कराने वाले यात्री को स्लीपर श्रेणी पर 20 रुपये और वातानुकूलित श्रेणी पर 40 रुपये की छूट मिलेगी. यह व्यवस्था 23 नवम्बर से 31 दिसम्बर तक लागू रहेगी. बता दें कि यात्रियों को राहत देने के लिए ही आठ नवम्बर से यात्री आरक्षण केंद्रों पर पुराने 500 और 1000 के नोट से बुकिंग की सुविधा दी गई है.

इसके अलावा पेट्रोल पम्प और कुछ अन्य जगहों पर भी पुराने नोट स्वीकार करने के आदेश दिए गए हैं. यह व्यवस्था 24 नवम्बर तक जारी रहेगी. वहीँ नोटबंदी के फैसले के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर टोल टैक्स से भी वाहनों को मुक्त कर दिया गया है. यह व्यवस्था भी 24 नवम्बर की रात 12 बजे तक लागू रहेगी. इसके अलावा एयरपोर्ट के पार्किग शुल्क से भी छूट दी गई है. हालाँकि ई -टिकट बुकिंग में सेवा कर से छूट मिलने से आईआरसीटीसी को राजस्व का नुकसान होगा. फ़िलहाल आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर कुल टिकट के 50 प्रतिशत से अधिक की बुकिंग की जाती है.

(مقتطفات من الموقع الرسمي لل newstracklive)

حصة:

صفحات مشابهة

add